केन्द्रीय मंत्री अनंत कुमार के निधन पर शोक

रायपुर, 12 नवंबर 2018 उपराष्ट्रपति श्री एम. वेंकैया नायडू ने आज नई दिल्ली में केंद्रीय संसदीय कार्य मंत्री श्री अनंत कुमार के निधन पर शोक व्यक्त किया है। अपने संदेश में उन्होंने कहा कि श्री कुमार छात्र आंदोलन के समय से लेकर संसद तक अनेक वर्षों तक उनके महत्वपूर्ण सहकर्मी रहे हैं। उन्होंने कहा कि श्री कुमार एक ख्यातिप्राप्त लेखक, प्रतिभावान कवि और मंत्रमुग्ध करने वाले वक्ता थे। उनका व्यक्तित्व सचमुच सर्वगुणी और बहुमुखी था।

उपराष्ट्रपति का संदेश निम्नानुसार है –
“संसदीय कार्य मंत्री श्री अनंत कुमार के असामयिक निधन के बारे में जानकर मुझे सदमा लगा है और मैं काफी दुःखी हुआ हूं।
श्री कुमार छात्र आंदोलन से लेकर संसद तक की जीवन यात्रा के दौरान महत्वपूर्ण सहकर्मी रहे वे एक समर्पित राष्ट्रवादी, विख्यात और प्रिय नेता तथा एक विशिष्ट राजनेता थे।
एक ख्यातिप्राप्त लेखक, प्रतिभावान कवि और मंत्रमुग्ध करने वाले वक्ता के रूप में उनका व्यक्तित्व सचमुच सर्वगुणी और बहुमुखी था। उत्कृष्ट कार्यकाल और सार्वजनिक जीवन में उनके कार्यों की लंबी सूची हमारे देश के लिए उनकी निःस्वार्थ सेवा के प्रमाण हैं।
उनके निधन से भारतीय लोकतंत्र और राज्यव्यवस्था को अपूरणीय क्षति हुई है। मेरी प्रार्थना है कि परमात्मा उनके परिजनों, दोस्तों और प्रियजनों को इस अत्यंत कठिन समय से उबरने की शक्ति और साहस प्रदान करें।
श्री अनंत कुमार को हमेशा याद किया जाएगा और उनकी स्मृतियों को हमेशा के लिए संजोकर रखा जाएगा। उनका जीवन चिरकालिक ज्योति के समान आने वाले लंबे समय तक देश सेवा करने वाले लोगों का मार्गदर्शन करता रहेगा।
उनकी आत्मा को शांति मिले।
ॐ शांति।”

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने केंद्रीय मंत्री श्री अनंत कुमार के निधन पर शोक व्यक्त किया है।

अपने शोक संदेश में प्रधानमंत्री ने कहा, “अपने महत्वपूर्ण सहयोगी और मित्र श्री अनंत कुमार जी के निधन से अत्यंत दुःखी हूं। वे एक ऐसे महत्वपूर्ण नेता थे, जिन्होंने कम उम्र में सार्वजनिक जीवन में प्रवेश किया और कर्मठता तथा दयाभाव के साथ समाज की सेवा करते रहे। उनके अच्छे कार्य के लिए उन्हें हमेशा याद किया जाएगा।

मैंने उनकी धर्मपत्नी डॉ. तेजस्विनी जी से बात की और श्री अनंत कुमार जी के निधन पर संवेदना व्यक्त कीं। इस दुखद घड़ी में उनके पूरे परिवार, दोस्तों और समर्थकों के साथ मेरी संवेदनाएं हैं। ॐ शांति।”

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने केन्द्रीय मंत्री श्री अनन्त कुमार के निधन पर गहरा दुःख व्यक्त किया है। श्री अनन्त कुमार का आज देर रात बेंगलुरु में निधन हो गया। डॉ. रमन सिंह ने रायपुर में जारी शोक संदेश में कहा है कि श्री अनंतकुमार वरिष्ठ राजनेता, कर्मठ जनप्रतिनिधि और कुशल प्रशासक थे। केन्द्रीय मंत्री के रूप में विभिन्न मंत्रालयों में उन्होंने लम्बे समय तक देश को अपनी उल्लेखनीय सेवाएं दी। डॉ .रमन सिंह ने उनके शोक संतप्त परिवार के प्रति संवेदना प्रकट की है और दिवंगत आत्मा की शान्ति के लिए ईश्वर से प्रार्थना की है।

राज्यपाल श्रीमती आनंदीबेन पटेल ने केन्द्रीय मंत्री श्री अनंत कुमार के निधन पर गहरा दुख व्यक्त किया है। राज्यपाल ने कहा है कि श्री अनंत कुमार लोकप्रिय राजनेता और प्रतिबद्ध जनसेवक थे। उनके निधन से राष्ट्र को अपूरणीय क्षति पहुंची है। राज्यपाल ने स्वर्गीय श्री अनंत कुमार के शोक संतप्त परिवार के प्रति संवेदना व्यक्त करते हुए मृतात्मा की शांति के लिए ईश्वर से प्रार्थना की है।

केंद्रीय इस्पात मंत्री चौधरी बीरेन्द्र सिंह ने केंद्रीय रसायन एवं उर्वरक और संसदीय कार्य मंत्री श्री अनंत कुमार के निधन पर गहरा दुःख व्यक्त किया है। एक वक्तव्य में इस्पात मंत्री ने कहा कि श्री अनंत कुमार अच्छी सोच और भावनाओं वाले व्यक्ति थे तथा दयाभाव और सेवा के प्रतीक थे।

चौधरी बीरेन्द्र सिंह ने श्री कुमार की संगठन क्षमताओं तथा उनके नेतृत्व के गुणों को याद करते हुए कहा कि एक अनुभवी संसदविद के रूप में उन्होंने हमेशा के लिए एक अमिट छाप छोड़ दी है।
इस्पात मंत्री ने कहा कि वे इस दुःखद घड़ी में शोक संतप्त परिवार के साथ उनकी प्रार्थनाओं में शामिल हैं।
श्री अनंत कुमार का आज तड़के बैंगलुरू में निधन हो गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

www.000webhost.com