नेशनल लोक अदालत में कई प्रकरणों का हुआ निराकरण

दंतेवाड़ा : नेशनल लोक अदालत में कई प्रकरणों का हुआ निराकरण
दंतेवाड़ा, 10 सितम्‍बर 2018 – माननीय उच्‍चतम न्‍यायालय/राष्‍ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण नई दिल्‍ली के निर्देशानुसार जिला एवं सत्र न्‍यायालय दन्‍तेवाड़ा/व्‍यवहार न्‍यायालय सुकमा, बीजापुर, बचेली में 08 सितम्‍बर 2018 को जिला विधिक सेवा प्राधिकरण दन्‍तेवाड़ा द्वारा नेशनल लोक अदालत आयोजित कर नेशनल लोक अदालत में न्‍यायाधीशगण द्वारा प्री-लिटिगेशन एवं न्‍यायालय में लंबित कुल 96 प्रकरणों का निराकरण कर 17 लाख 69 हजार 2 सौ 20 रूपये का अधिनिर्णय पारित किया गया। बैंक वसूली के 41, बिजली के 06, पानी के 14 अन्‍य बीएसएनएल 11, प्री लिटिगेशन प्रकरण एवं न्‍यायालय में लंबित 24 प्रकरणों का राजीनामा के माध्‍यम से त्‍वरित निराकरण किया गया।

माननीय जिला एवं सत्र न्‍यायाधीश श्री सुधीर कुमार द्वारा 01 दावा प्रकरण का त्‍वरित निराकरण करते हुए 2 लाख 50 हजार रूपये का एवार्ड पारित किया गया। श्रीमती प्रतिभा वर्मा अतिरिक्‍त जिला एवं सत्र न्‍यायाधीश (एफटीसी) द्वारा 01 प्रकरण निराकृत 5 लाख 50 हजार रूपये पारित किया गया। व्‍यवहार न्‍यायालय बीजापुर के मुख्‍य न्‍यायिक मजिस्‍ट्रेट श्री राकेश कुमार सोम द्वारा न्‍यायालय में लंबित 13 प्रकरण एवं प्री-लिटिगेशन 19 प्रकरण, श्री कमलेश कुमार जुर्री मुख्‍य न्‍यायिक मजिस्‍ट्रेट व्‍यवहार न्‍यायालय सुकमा के द्वारा न्‍यायालय में लंबित 05 प्रकरण, प्री-लिटिगेशन 42 प्रकरणों का त्‍वरित निराकरण किया गया।

नेशनल लोक अदालत मामलों का त्‍वरित निराकरण का एक अच्‍छा विकल्‍प है। जिसमें दोनों पक्षकार के मध्‍य आपसी मधुर संबंध स्‍थापित हो जाते हैं एवं कई परिवार टूटने से बच जाते हैं तथा कोर्ट फीस नहीं लगती है।

जगदलपुर : विधानसभा निर्वाचन 2018 : राजनैतिक दलों को मतदान की प्रक्रिया से कराया गया अवगत
जगदलपुर, 10 सितम्बर 2018 – विधानसभा निर्वाचन के दौरान मतदान की प्रक्रिया से प्रषिक्षण राजनैतिक दलों को अवगत कराया गया। रविवार को जिला कार्यालय के आस्था कक्ष में आयोजित कार्यक्रम में राजनैतिक दलों को मतदान की प्रक्रिया से अवगत कराया गया। मतदान की प्रक्रिया को पारदर्षी बनाने के लिए निर्वाचन आयोग द्वारा अपनाए गए वीवीपेट से संबंधित विस्तृत जानकारी भी दी गई।
कलेक्टर श्री अय्याज तम्बोली की उपस्थिति में आयोजित इस कार्यक्रम में बताया गया कि पहले मतदान के लिए जहां सिर्फ कन्ट्रोल यूनिट और बैलेट यूनिट का उपयोग किया जाता था, वहीं अब इसमें वीवीपेट का उपयोग भी किया जाएगा। इसमें वीवीपेट कन्ट्रोल यूनिट और बैलेट यूनिट के बीच एक ऐसा उपकरण है, जिसमें मतदान के पश्चात् उम्मीदवार का सरल क्रमांक नाम और उसका प्रतीक चिन्ह की पर्ची दिखाई देगी। यह पर्ची कुछ देर तक दिखाई देने के पश्चात् इसी के बाॅक्स में जमा हो जाएगी। बताया गया कि पूरे विधानसभा में किसी एक मतदान केन्द्र के वीवीपेट की पर्चियों की भी गणना की जाएगी और उस मतदान केन्द्र का चयन लाटरी के माध्यम से किया जाएगा।
इस अवसर पर अपर कलेक्टर श्री प्रकाष सर्वे, उप जिला निर्वाचन अधिकारी श्री गोकुल रावटे, एसडीएम श्री अरविन्द एक्का, सुश्री लवीना पाण्डे, सुश्री माधुरी सोम सहित अन्य अधिकारीगण उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Categories

www.000webhost.com