महासमुंद अटल विकास यात्रा 2018 36 किलो मीटर का रोड-शो

मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह का बागबाहरा से महासमुंद तक रोड-शो में जगह-जगह अभूतपूर्व स्वागत एवं अभिनंदन
बागबाहरा में व्यवहार न्यायालय की स्थापना जल्द- डॉ. सिंह

महासमुंद, 07 सिंतबर 2018 – मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने अटल विकास यात्रा के अंतर्गत आज महासमुंद जिले में बागबाहरा से महासमुंद तक 36 किलो मीटर तक रोड-शो किया। मुख्यमंत्री ने घुंचापाली के चण्डी मंदिर में पूजा अर्चना के बाद रोड-शो शुरू किया। रोड-शो के दौरान बागबाहरा, खल्लारी, मामाभांचा, झालखम्हरिया में स्वागत सभा और स्वागत का कार्यक्रम आयोजित किया गया। बागबाहरा से महासमुंद तक पूरे मार्ग में गांव-गांव में लोगों ने मुख्यमंत्री का स्वागत किया। महिलाएं जगह-जगह कलश लेकर आरती और पुष्पवर्षा कर उनका अभिनंदन किया। पंथी नृत्य, राउत नाचा के साथ-साथ अन्य लोक कलाकारों ने मुख्यमंत्री का स्वागत किया।

मुख्यमंत्री ने बागबाहरा की स्वागत सभा में कहा कि महासमुंद जिले के तहसील मुख्यालय बागबाहरा में जल्द की व्यवहार न्यायालय की स्थापना की जाएगी। यह इस क्षेत्र की जनता की वर्षों पुरानी मांग है, जिसे राज्य सरकार जल्द पूरा करेगी। इसके लिए राज्य शासन की विधि विभाग और हाई कोर्ट बिलासपुर से चर्चा की जाएगी। मुख्यमंत्री ने खल्लारी, मामाभांचा और झालखम्हरिया में भी स्वागत में उमड़े लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि विकास यात्रा में 15 सालों के विकास के प्रति लोगों का विश्वास दिख रहा है। विकास का यह सफर आगे भी चलेगा। आम जनता के सहयोग, आशीर्वाद तथा स्नेह से विकास का लंबा सफर मात्र 15 साल में ही छत्तीसगढ़ ने तय कर लिया है। उन्होंने कहा कि हमारी सरकार ने वर्ष 2015 तक नवा छत्तीसगढ़ बनाने का लक्ष्य रखा है। प्रदेश की जनता के सहयोग और आशीर्वाद से हमारी सरकार इस लक्ष्य को पूरा करेंगी। छत्तीसगढ़ को देश के विकसित राज्यों में छत्तीसगढ़ को शामिल करने के लिए हम सब को मिलजुल कर काम करना होगा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश सरकार की छोटी-छोटी विकास योजनाएं आम जनता के जीवन में सुखद बदलाव लाने का काम कर रही हैं। प्रदेश सरकार हर वर्ग की चिंता करती है। उन्होंने कहा कि इस साल विकास यात्रा का यह दूसरा चरण चल रहा है। विकास यात्रा के दौरान जनता में अभूतपूर्व उत्साह दिखाई दे रहा है। जनता से आशीर्वाद मिल रहा है। विकास यात्रा में जनता से मिलने और बात करने का अवसर मिलता है। यह मेरे लिए तीर्थयात्रा के समान है। मुख्यमंत्री ने कहा कि इस साल 300 रूपए बोनस मिलाकर धान का समर्थन मूल्य प्रति क्विंटल दो हजार 50 रूपए मिलेगा। यह जनता की मेहनत का सम्मान है। डॉ सिंह ने कहा कि अटल विकास यात्रा पिछले 15 सालों के विकास यात्रा को और आगे बढ़ाने की यात्रा है। मुख्यमंत्री ने बताया कि इस साल तेंदूपत्ता संग्राहकों को सात सौ 50 करोड़ रूपए का बोनस वितरित किया जा रहा है।

मुख्यमंत्री ने बताया कि प्रदेश सरकार आम जनता के जीवन में परितर्वन लाने लक्ष्य बनाकर कार्य करती है। जरूरत के अनुरूप योजनाओं का विस्तार भी किया जाता है। उन्होंने बताया कि गरीब परिवारों को एकल बत्ती कनेक्शन दिया गया है। इसमें 40 यूनिट तक बिजली मुफ्त दी जाती है। कई परिवारों में बिजली की खपत बढ़ने से बिजली बिल भी अधिक आ रहा है। प्रदेश सरकार ने ऐसे परिवारों को राहत देने के लिए नई योजना बनाई है। जिसमें अधिकतम 100 रूपए प्रतिमाह का बिजली बिल लिया जाएगा। इससे प्रदेश के 12 लाख परिवार लाभान्वित होंगे। मुख्यमंत्री के रोड-शो में संस्कृति मंत्री एवं जिले के प्रभारी मंत्री श्री दयालदास बघेल, लोक निर्माण मंत्री श्री राजेश मूणत, खल्लारी विधायक श्री चुन्नीलाल साहू सहित अन्य जनप्रतिनिधि शामिल थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

www.000webhost.com