राजभवन में छायाचित्र प्रदर्शनी 04 अक्टूबर तक रहेगा ओपन हाउस

गांधी जयंती के अवसर पर राजभवन में छायाचित्र प्रदर्शनी का शुभारंभ हुआ : आम जनता के लिए 04 अक्टूबर तक रहेगा ओपन हाउस : प्रदर्शनी को देखने के लिए लोगों का तांता लगा रहा
रायपुर, 02 अक्टूबर 2018 राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की 150वीं जयंती के उपलक्ष्य पर आज सुबह राजभवन के दरबार हाल में आयोजित गांधी दर्शन पर आधारित छायाचित्र प्रदर्शनी का शुभारंभ महात्मा गांधी के प्रिय भजन ‘वैष्णवजन…’ के साथ किया गया। इस अवसर पर राज्यपाल के सचिव श्री सुरेन्द्र कुमार जायसवाल, कुशाभाऊ ठाकरे पत्रकारिता एवं जनसंचार विश्वविद्यालय के कुलपति श्री मानसिंह परमार, पंडित रविशंकर शुक्ल विश्वविद्यालय के कुलपति श्री केशरीलाल वर्मा, राजभवन के विधि सलाहकार श्री एन. के. चन्द्रवंशी, समाज कल्याण विभाग के संचालक श्री संजय अलंग, राज्यपाल के उप सचिव श्रीमती रोक्तिमा यादव, नियंत्रक श्री एस. के. अग्रवाल एवं विभिन्न स्कूलों के छात्र-छात्राएं उपस्थित थे।

प्रदर्शनी देखने के लिए बड़ी संख्या में नागरिक और विद्यार्थियों का तांता लगा रहा। उन्होंने महात्मा गांधी के प्रारंभिक जीवन, उनके स्वतंत्रता आंदोलन में योगदान सहित विभिन्न प्रसंगों को छायाचित्र के माध्यम से समझा। विद्यार्थियों ने महात्मा गांधी के छत्तीसगढ़ प्रवास के दौरान के छायाचित्र और उनके द्वारा दिए गए भाषण की प्रतिलिपि को रूचि से देखा और समझा। साथ ही वे महात्मा गांधी के जीवन पर आधारित साहित्य के बारे में भी जानकारी लेते रहे। प्रदर्शनी में खादी ग्रामोद्योग द्वारा चरखा का भी प्रदर्शन किया गया है, जिसके बारे में जानने के लिए दर्शकों में उत्साह देखा गया। खादी ग्राम उद्योग के स्टाल में प्रदर्शित खादी के परिधानों को देखने के लिए भी लोगों का हुजुम लगा रहा। गौरतलब है कि प्रथम बार राजभवन में तीन दिनों का ओपन हाउस रखा गया है, जिस दौरान आम नागरिक महात्मा गांधी पर आधारित प्रदर्शनी को देखने के लिए आ सकते हैं।
ज्ञातव्य है कि प्रदर्शनी में महात्मा गांधी के प्रारंभिक जीवन, दक्षिण अफ्रीका यात्रा, भारत आगमन, दांडी यात्रा और उनके जीवन के विभिन्न प्रसंगों को प्रदर्शित किया गया है। इसमें विशेष रूप से महात्मा गांधी के छत्तीसगढ़ यात्रा से संबंधित छायाचित्र, संपूर्ण गांधी साहित्य एवं गांधी जी के जीवन पर आधारित वृत्त चित्र का भी प्रदर्शन किया गया है। इसके अलावा छत्तीसगढ़ खादी तथा ग्राम उद्योग बोर्ड द्वारा सामान्य चरखा और आधुनिक चरखा भी रखा गया है। साथ ही विशेष रूप से खादी के विभिन्न परिधान भी प्रदर्शित किए गए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

www.000webhost.com