राज्य जल संसाधन उपयोग समिति की 45वीं बैठक सम्पन्न

रायपुर, 07 सितम्बर 2018 मुख्य सचिव श्री अजय सिंह की अध्यक्षता में गुरूवार की शाम मंत्रालय (महानदी भवन) में राज्य जल संसाधन उपयोग समिति की 45वीं बैठक का आयोजन किया गया। बैठक में राज्य की विभिन्न नदियों से पेयजल, निस्तार एवं औद्योगिक प्रयोजन के लिए विभिन्न शहरों एवं उद्योगों को जल आबंटन एवं जल प्रदाय किये जाने के प्रस्तावों पर विस्तार से विचार-विमर्श किया गया। श्री अजय सिंह ने पेयजल की आपूर्ति, सिंचाई के लिए जल आपूर्ति के पश्चात ही औद्योगिक प्रयोजनों के लिए नदियों का पानी प्रदाय किये जाने के निर्देश दिये है। बैठक में समिति के समक्ष पेयजल प्रदाय एवं औद्योगिक प्रयोजन के कुल 11 प्रस्ताव रखे गए। समिति ने नौ प्रस्तावों को स्वीकृति प्रदान की। दो प्रस्ताव विभिन्न कारणों से लंबित रखे गए हैं। मुख्य सचिव ने इन दोनों प्रस्तावों के विषय में आवश्यक परीक्षण करने के निर्देश दिए है।

बैठक में समिति ने जांजगीर-चांपा के विकासखण्ड अकलतरा स्थित अकलतरा आवर्धन जल प्रदाय योजना से वार्षिक पेयजल आबंटन, जिला सूरजपुर के हर्राटिकरा समूह जल प्रदाय योजना के लिए रेहर नदी/रेहर एनीकट से वार्षिक पेयजल आबंटन, बालोद जिले की बालोद नगर आवर्धन जल प्रदाय योजना के लिए तान्दूला मुख्य नहर से वार्षिक जल आबंटन की स्वीकृति प्रदान की। इसके साथ ही जिला रायगढ़ के तमनार-तराईमाल में स्थापित स्पंज आयरन प्लांट और प्रस्तावित 10 मेगावाट के पॉवर प्लांट के लिए गेरवानी नाला से वार्षिक जल आबंटन, जिला सूरजपुर भैयाथान-माडर के निकट रेहर नदी पर प्रस्तावित 24 मेगावाट के लघु जल विद्युत परियोजना के लिए जल बहाव, जिला जांजगीर-चांपा के डभरा-उचपिन्दा में प्रस्तावित 1440 मेगावाट जल विद्युत परियोजना के लिए महानदी से वार्षिक जल आबंटन, जिला रायगढ़ के खरसीया-छोटेडूमरपाली के निकट प्रस्तावित कोल वॉशरी हेतू दांतारनाला से वार्षिक जल आबंटन, कोरबा के 1200 मेगावाट थर्मल पॉवर प्लांट के लिए हसदेव बांगो जलाशय से वार्षिक जल आबंटन और बिलासपुर के बिल्हा-सिलपहरी औद्योगिक क्षेत्र में प्रस्तावित स्पंज आयरन और 16 मेगावाट के पॉवर प्लांट के लिए अरपा नदी से जल प्रदाय किये जाने की स्वीकृति प्रदान की गयी।

संबंधित संस्थाओं द्वारा वार्षिक जल के उपयोग के बदले में शासन द्वारा निर्धारित दर पर राजस्व उपलब्ध कराया जाएगा। समिति में सूरजपुर जिले के भैयाथान-पासल के निकट रेहर नदी पर प्रस्तातिव 24 मेगावाट रेहर-1 लघु जल विद्युत परियोजना और जांजगीर-जिले के अकलतरा-नरियरा में प्रस्तावित 3600 मेगावाट थर्मल पॉवर प्लांट के लिए महानदी से जल आबंटन के प्रस्ताव को विभिन्न परीक्षणों के लिए लंबित रखा है। बैठक में अपर मुख्य सचिव कृषि श्री सुनील कुजूर, प्रमुख सचिव वित्त श्री अमिताभ जैन, सचिव उद्योग डॉ. कमलप्रीत सिंह, विशेष सचिव नगरीय प्रशासन श्री निरंजन दास, विशेष सचिव जल संसाधन श्री अविनाश चम्पावत, विशेष सचिव ऊर्जा श्री सिद्धार्थ कोमल परदेशी सहित जल संसाधन विभाग एवं लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

राज्य शासन ने राजनांदगांव जिले के विकासखण्ड छुरिया की चिखलाकसा जलाशय योजना के लिए नौ करोड़ 28 लाख सात हजार रूपये स्वीकृत किये है। जल संसाधन विभाग मंत्रालय (महानदी भवन) से जलाशय निर्माण कराने के लिए मुख्य अभियंता महानदी गोदावरी कछार, जल संसाधन विभाग रायपुर को प्रशासकीय स्वीकृति जारी कर दी है। जलाशय योजना का निर्माण हो जाने पर क्षेत्र के किसानों के खेतो में 292 हेक्टेयर क्षेत्र में खरीफ की फसलों के लिए सिंचाई सुविधा हो जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

www.000webhost.com